गुजरात के सूरत में आयोजित दुनिया का सबसे बड़ा चिकित्सा शिविर “स्वास्थ्य जिंदगी” हुआ सम्पन्न

विश्व का सबसे बड़ा  चिकित्सा स्वास्थ्य शिविर २९  अक्टूबर २०१७  को  लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल के जन्म दिन पर  नीलगिरी ग्राउण्ड  सूरत में आयोजित  किया गया था, जो यह एक  ऐतिहासिक दिन साबित हुआ। संगठित आर के एचआईवी एड्स &रिसर्च केयर सेंटर द्वारा आयोजित किया गया। आर के एचआईवी एड्स &रिसर्च केयर सेंटर के चैयरमेन डॉ. धर्मेंद्र कुमार के मुताबिक, लगभग ५  लाख लोगो के लिए  नि: शुल्क जांच और उपचार की सुविधा उपलबध करायी  गयी थी  जिसमे १ लाख ४८,०००  मरीजों ने लाभ उठाया। वॉकहॉर्डट फाउंडेशन और अल्केम दवारा  ७.८० लाख दवाईए वितरण करायी गयी।  और १३००० चश्मे  जरुरतमंदो को बाटे गए।

संगठित आर के एचआईवी एड्स &रिसर्च केयर सेंटर द्वारा और कई व्यवसायों और सूरत के  व्यापारियों ने हाथ बढ़ाया  । संरक्षक सूरत मेडिकल शिविर में एम्पल मिशन के चेयरमैन डॉक्टर   अनील काशी मुरारका, शुभलक्मी  पॉलियेस्टर लिमिटेड अजय  अग्रवाल,, रक व्यास, ऑरेंज अस्पताल के अध्यक्ष है  एन. सी. पी के अध्यक्ष  शिव नारायण पालीवाल,  डॉ ऋषिकेश पई और डॉ रेशमा ढिल्लों ,रेडियो जॉकी प्रेम कुमार और कई अन्य लोग शामिल हुए।  जे. जे अस्पताल के सुप्रीटेंडट डॉ आर. डी. वाघमारे ने  मरीजों की सेवाएं की। सूरत के मेडिकल सिविल अस्पताल के सुप्रिडेंट डॉ. ऍम. के. वर्डाल भी उपस्थित थे। डॉ जगन्नाथ राव हेगड़े भी  इस संगठन में शामिल थे।    आर. जे. डी के नेशनल  जनरल सेक्रेटरी  अशोक सिंह भी मोजूद थे।  सूरत मेडिकल कॉलेज, स्मिमर अस्पताल सूरत और अन्य सूरत में विश्व के सबसे बड़े मेडिकल कैंप के लिए डॉक्टरों और अन्य चिकित्सा कर्मचारी उपलब्ध थे। सुरत  में दुनिया की सबसे बड़ी  चिकित्सा और स्वास्थ्य शिविर में  फिल्म और टीवी  के सितारे  भी  उपस्थिति थे ।

चिकित्सा जांच शिविर  स्थानीय संगठनों की मदद से मुंबई में  स्थित  गैर सरकारी संगठन आर के एचआईवी एड्स रिसर्च एंड केयर सेंटर की ओर से आयोजित की गई। इस   कैम्प में आवश्यकता के आधार पर स्वास्थ्य दुर्घटना बीमा, भी दी गयी  इंडिया एससीबीस डॉट कॉम के जरिये। आयोजकों ने कहा कि वे जरूरतमंद मरीजों के लिए  परिचालन और सर्जरी के लिए २० ,०००  रुपये से २०  लाख रुपये तक का खर्च उठा सकते हैं। सामान्य और विशेष शाखाओं सहित विभिन्न संकायों के लगभग ५ ,०००  डॉक्टर इस शिविर में १० ,०००  से अधिक पेरामेडिकल  स्टाफ के साथ मरीजों की जांच और उपचार करने के लिए अपनी सेवाएं देंगे। पिछले पांच वर्षों में, आर के एचआईवी सफलतापूर्वक ७९७१  चिकित्सा शिविरों, जिसमें ३७ ,७१ ,५७८  से अधिक रोगियों गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, बिहार, राजस्थान, उड़ीसा जैसे राज्यों में जाँच  संचालित किया गया  है। शहरी स्लम और आस-पास के ग्रामीण क्षेत्रों में एक बार -अनुभागीय सर्वेक्षण को विभिन्न सामाजिक स्वास्थ्य-जनसांख्यिकीय पैटर्नों और एहतियाती उपायों को प्रभावित करने वाले विभिन्न स्वास्थ्य खतरों को समझने के लिए आयोजित किया गया था।

About Editor IS -Tv

Webmaster (National Chief Reporter – responsible for general news and content posted on this site) account for http://www.indiascribes.com. You can contact us on indiascribes.com AT gmail.com for editorial purpose. For any complaints or grievances please write to us at editor.indiascribes.com AT gmail.com. Press Releases may be sent to mypressreleases AT gmail.com

View all posts by Editor IS -Tv →